Spread the love

आष्टा । 2 दिन पूर्व सोनकच्छ तहसील के ग्राम जिरवाय मैं कांग्रेस नेता पूर्व सांसद सज्जन सिंह वर्मा ने जिरवाय में एक संत की चल रही कथा के दौरान वहां पर व्यास गादी के मंच से अपने भाषण में सीहोर जिले के गौरव राष्ट्रीय संत पंडित प्रदीप मिश्रा और मध्यप्रदेश के जाने-माने बागेश्वर धाम राष्ट्रीय संत श्री धीरेंद्र शास्त्री जी के बारे में जो कहा,जिस ओछी,घटिया,संत समाज को अपमानित करने वाली भाषा का प्रयोग करते हुए मंच से उनका अपमान किया ।

इस व्यास गादी के समक्ष सज्जनसिंह वर्मा ने अपने भाषण में संतो को शब्दों से किया अपमानित

इसको लेकर पूरे देश का संत समाज आक्रोशित है। संतो को लेकर कही गई बातों से व्यास गादी पर विराजित संत को भी काफी तकलीफ हुई है। आज आष्टा में हिंदू उत्सव समिति के अध्यक्ष कालू भट्ट और सकल हिंदू समाज के अध्यक्ष सुरेश सुराना के नेतृत्व में नगर के कॉलोनी चौराहे पर संतो को लेकर जो कहा उसके विरोध में कांग्रेस नेता,सोनकच्छ के विधायक पूर्व मंत्री एवं सांसद सज्जनवर्मा का पुतला दहन किया गया । इस मामले की जानकारी देते हुए हिन्दू उत्सव समिति के अध्यक्ष कालू भट्ट ने बताया कि अपने अनर्गल और अप शब्दों की शैली से पूर्व सांसद सज्जन वर्मा पहले भी विवादों में रहे हैं ।वे हर मंच को अपना राजनीतिक मंच समझते हैं ।

सोनकच्छ के ग्राम जिरवाय में चल रही है संतश्री की कथा

2 दिन पूर्व उन्होंने सोनकच्छ जिले में चल रही एक कथा के दौरान संत के कंधों पर अपना हाथ रख कर आमर्यादित तरीके से अन्तराष्ट्रीय कथा वाचक पंडित प्रदीप मिश्रा सीहोर वाले एवं बागेश्वरधाम के अन्तराष्ट्रीय कथा वाचक,संत श्री धीरेंद्र शास्त्री के बारे में जो कहा था कि अब धर्म की भी दुकानें खुल गई है,पहले दुकान छोटी थी,अब बड़े स्टोर हो गये है। अब इन दोनों संतो ने अपनी छोटी दुकानों के स्थान पर बड़ी बड़ी दुकानें खोल ली है और अपनी बड़ी बड़ी दुकान चला रहे हैं। सर्वप्रथम तो दोनों ही ब्राह्मण समाज के संत हैं और सामाजिक समरसता के तहत पूरे समाज को एक माला में पिरोने का कार्य ये कर रहे हैं ।

आक्रोशित हिन्दू संगठन-सकल हिन्दू समाज ने जलाया पुतला

सज्जन वर्मा के इस बयान के बाद संत समाज तो आक्रोशित है ही, हिंदू समाज भी मानता है कि कांग्रेस नेता ने मंच से दोनों अन्तराष्ट्रीय संतों को लेकर जो कहा जिस भाषा का,जिन शब्दों का सज्जनसिंह वर्मा ने उपयोग किया निश्चित वो निंदनीय है,उससे संतो का अपमान हुआ है । इसीलिए आज हमने उनके पुतले को जलाकर उनका अंतिम संस्कार किया है । क्योंकि ऐसे निर्लज्ज और अमर्यादित व्यक्ति को जीने का अधिकार नहीं है । सकल हिन्दू समाज के अध्यक्ष श्री सुरेश सुराना ने कहा है कि सज्जन वर्मा दोनों संतो से लिखित में माफी मांगे नहीं तो पूरा हिंदू समाज का हर व्यक्ति और हर बच्चा उनका पुतला पूरे मध्यप्रदेश में और हर जिले में जलाया जाएगा ।

लगातार दूसरे दिन जला कांग्रेस नेता सज्जनवर्मा का पुतला

स्मरण रहे कल भी कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने आष्टा में पूर्व मंत्री कांग्रेस नेता सज्जनवर्मा का पुतला जलाया था। इस अवसर पर हिंदू समाज के पदाधिकारी गण विश्व हिंदू परिषद के गोपाल दास राठी, दिनेश शर्मा, मुकेश नामदेव, मनोहर भोजवानी, राधेश्याम आलेरिया, पार्षद रवि शर्मा, सुरेश परमार, आनंद गोस्वामी, विशाल चौरसिया, राम वर्मा, प्रवेश शर्मा, गोविंद ब्रह्मभट्ट, मोहित प्रजापति, पिंटू चौधरी, शुभम जयसवाल, दीपक सोनी मारुति, शुभम रवि कुशवाह, बालमुकुंद कुशवाह, शिवा कुशवाह, सोनू बरेठा, विशाल पाटीदार, राहुल मालवीय, रामभरोसे वर्मा बैटरी, सुरेश जैन, मोहित जैन, नवीन शर्मा, शिवा कुशवाह आदि पदाधिकारी उपस्थित थे ।

error: Content is protected !!