Spread the love

सीहोर । कल 10 फरवरी को इच्छावर पुलिस को सुचना प्राप्त हुई कि थाना अन्तर्गत ग्राम डुंडलावा से कुछ अज्ञात लोगो द्वारा एक सफेद रंग की कार मे जबरन 07 साल की मासूम नाबालिक का अपहरण कर ले गये है।

सुचना पर थाना इछावर में अज्ञात आरोपियों के विरूद्ध अपराध धारा 363, 372 भादवि के तहत मामला कायम किया गया।


सूचना मिलते ही पुलिस अधीक्षक सीहोर श्री मयंक अवस्‍थी तत्‍काल घटना स्‍थल पर पहुंचे एवं प्रकरण की गम्भीरता को दृष्टीगत रखते हुये अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सीहोर गीतेश गर्ग के मार्गदर्शन मे अनुविभागीय अधिकारी पुलिस भैरूंदा दीपक कपूर एव अनुविभागीय अधिकारी पुलिस आष्टा आकाश अमलकर ने विभिन्न टीम बनाई ।

एक टीम थाना प्रभारी इछावर कंचन सिह ठाकुर, दुसरी टीम थाना प्रभारी दोराहा राजेश सिन्हा तीसरी टीम थाना प्रभारी बिलकिसंगज अविनाश भोपले एव चौथी टीम चौकी प्रभारी अमलाहा अजय जोझा के नेतृत्व मे गठीत कर अपह्ता की दस्तयाबी हेतु उचित निर्देश दे कर रवाना किया। चारो टीमो ने पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों से प्राप्त दिशा निर्देशो के पालन मे सर्वप्रथम अपहता के परिजनो से संदिग्ध कार एव अज्ञात लोगो के हुलिये की जानकारी एकत्रित की गई।

साथ ही घटना स्थल के आस पास रहने वाले एव घटना स्थल से उस समय निकलने वाले वाहन चालको से उक्त कार के सम्बन्ध मे जानकारी एकत्रित की गई । पुलिस टीम द्वारा जब वारदात की जांच पडताल की जा रही थी तभी इछावर थाना मे पदस्थ सैनिक विक्रम सिह ठाकुर को जानकारी मिली कि

अपहता के परिजनो दवारा बताये हुलिये के अज्ञात लोग घटना के एक दिन पहले घटना स्थल के आस पास घूमते देखे गये थे। जिसकी तस्दीक हेतु पुलिस टीम द्वारा घटना के पहले एव बाद के पुरे शहर के सीसीटीव्ही फुटेज खगालने प्रारम्भ किये। जिसके आधार पर एक संदिग्ध सफेद रंग की कार पुलिस को शहर के बाहर जाते दिखी ।

ये है सफलता के सारथी,होंगे पुरुष्कृत,30 हजार का ईनाम

सीसीटीव्ही फुटेज मे दिखी कार की तस्दीक हेतु एक टीम थाना प्रभारी दोराहा राजेश सिन्हा एव उनि कमलेश चौहान के नेतृत्व मे रवाना की गई। अन्य पुलिस टीम द्वारा तकनीकि सहायता प्राप्त की उस आधार पर पुलिस को जानकारी प्राप्त हूई कि एक सदिग्ध जो घटना स्थल पर देखा गया था। जिसके प्रदेश के विभिन्न थानो मे अपहरण की वारदात को अन्जाम देने के आपराधिक रिकार्ड दर्ज है ।

जिसकी कडी मे पुलिस ने उक्त संदिग्ध की सम्पुर्ण जानकारी एकत्रित की । इस तरह पुलिस टीमो द्वारा घटना क्रम के सम्पुर्ण साक्ष्य एव कडी से कड़ी को एक दुसरे से जोडा जिसमे सीसीटीव्ही फुटेज मे सदीग्ध कार का दिखना,वारदान के एक दिन पुर्व संदिग्धों का घटना स्थल पर मौजुद होना एव पुलिस द्वारा आसपास के लोगो से मिली अज्ञात लोगो के हुलिये के जानकारी के आधार पर सीहोर पुलिस टीम ने घटना स्थल से करीब 500 किलोमीटर दुर जिला शिवपुरी के मायापुर गाव से ग्राम डुंडलावा से 07 साल की मासूम नाबालिक को कार से अपहरण कर ले जाने वाले गिरोह के सभी 9 सदस्यो को दबिश देकर हिरासत मे लिया ।

पुलिस टीम द्वारा गिरोह के सदस्यो से 07 साल की मासूम नाबालिक को सुरक्षित दस्तयाब किया गया। सभी शातिर अपराधी हैं । एवं इन पर पूर्व में अपराधिक रिकार्ड विभिन्न जिलों के थानों में दर्ज है। आरोपी दयाराम के विरूद्ध देवास, राजगढ में अपहरण एवं मानव तस्‍करी के प्रकरण हैं एवं एक प्रकरण में न्‍यायालय से सजा हुई हैं । उक्त आरोपियों से पूछताछ की जा रही है,अन्य जिलों में हुई इस तरह की वारदातों का भी इनसे पूछताछ में खुलाशा होने की संभावना है ।

गिरोह के सदस्य घटना स्थल के पास एक दिन पहले रात्रि मे रुके थे। ये जहाँ रुके उसकी भी जांच होना चाहिये। दुसरे दिन ग्राम डुन्डलावा से नाबालिक को पानी देने के बहाने बुलाकर उसे कार मे बिठा कर अपहरण कर ले गये थे।

“पकड़े गये गिरोह के सदस्यो के नाम इस प्रकार है”

01 तिवारी कंजर पिता नात कंचर उम्र 30 साल निवासी पीपलरावा जिला देवास
02 राहुल पिता चिमन मालवीय उम्र 20 निवासी खेडावत थाना सिलसिलाई जिला शाजापुर
03 सुनिल उर्फ रिन्कु पिता गणेश कन्जर उम्र 28 साल निवासी मायापुर शिवपुरी
04 आजाद सिह पिता रामजी कन्जर उम्र 38 साल निवासी मायापुर शिवपुरी


05 धऱमराज पिता सरविन कजर उम्र 55 साल निवासा मायापुर जिला शिवपुरी
06 शाहरुख पिता अकबर उम्र 25 साल निवासी बाबडिया थाना इछावर जिला सीहोर
07 दयाराम पिता हरिशंकर उम्र 46 साल निवासी खेडावद थाना थाना सलसलाई जिला शाजापुर
08 इकरा पति शाहरुख उम्र 20 साल निवासी बाबडिया थाना इछावर जिला सीहोर
09 मागीबाई पति राहुल कन्जर उम्र 18 साल निवासी खेडावद थाना थाना सलसलाई जिला शाजापुर है।

“इस मामले में जो बड़ी सफलता मिली ,उस सफलता के सिरमौर”

टीम -01
निरीक्षक कंचन सिह ठाकुर थाना प्रभारी इछावर, उनि कमलेश चौहान, उनि शिवलाल वर्मा सउनि मनोज गोस्वामी प्रधान आरक्षक धर्मेद्र ठाकुर , प्रधार आरक्षक विक्रम रघुवशी आरक्षक नरेन्द्र जाट महिला आर निशि महिला आरक्षक नेहा सैनिक देवेन्द्र सैनिक तिलक राम सैनिक विक्रम सिह ठाकुर सैनिक प्रेमसागर सैनिक राधेश्याम सैनिक रामसिह
टीम- 02
निरीक्षक राजेश सिन्हा थाना प्रभारी दोराहा , प्रधान आऱक्षक दयाल लवाना , प्रधान आरक्षक उमेश वर्मा ,आरक्षक प्रशान्त सैनिक राकेश


टीम- 03
उप निरीक्षक अविनाश भोपले थाना प्रभारी बिलकीसगंज, आरक्षक फैजल अहमद ,सैनिक विनोद पुरी
टीम- 04
उप निरीक्षक अजय जोझा चौकी प्रभारी अमलाहा , आरक्षक संजय चद्रवशी की सराहनीय भूमिका रही।

“चारो टीम को आईजी भोपाल ने की पुरुष्कृत करने की घोषणा,30 हजार का चारो टीमो को मिलेगा ईनाम”

जिला पुलिस अधीक्षक श्री मयंक अवस्थी ने आष्टा हैडलाइन को चर्चा में बताया कि इस पूरे मामले में जो सफलता की सिरमौर चारों टीम है उन चारों टीमों के सभी पुलिस अधिकारियों एवं कर्मियों को आईजी भोपाल द्वारा ₹30 हजार रुपये नगद पुरस्कार की घोषणा की गई है ।

चर्चा में उन्होंने बताया कि उक्त घटना में स्थानीय कनेक्शन के रूप में इछावर तहसील के ग्राम बावड़िया निवासी शाहरुख की भूमिका रही है जिसे इस पूरे मामले में आरोपी भी बनाया गया है ।

मानव तस्करी के रूप में यह ऐसे स्थान का चयन करते हैं जहां इन्हें बच्चियों के अपहरण करने में ज्यादा परेशानी ना हो इसीलिए उन्होंने उक्त गांव का चयन किया था । निश्चित रूप से पूर्व में की गई रैकी के आधार पर ही इस ग्राम को उन्होंने चुना । यह गिरोह जो अपहरण कर बच्चियों को ले जाते हैं उन्हें या तो यह बेचते हैं या अन्य किसी बुरे कामों में उन बच्चियों को धकेल दिया जाता है । इस पूरे गिरोह से पूछताछ की जा रही है तथा इनसे अन्य स्थानों पर भी इस तरह की घटनाओं का खुलासा होने की उम्मीद है ।

You missed

error: Content is protected !!