Spread the love

आष्टा। आज अन्तर्राष्ट्रीय नर्स दिवस पर ब्रह्मकुमारीज शांति सरोवर परिसर में आजादी के अमृत महोत्सव के तहत नर्सो का स्वागत सम्मान का कार्यक्रम आयोजित किया गया। कुसुम दीदी ने दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। इस अवसर पर डॉ विजय कोचर,डॉ जितेश जी रोहरा पेट्रो सर्जन,डॉ भोपाल सिंह परमार संतोष जायसवाल,सहित शासकीय एवं प्राइवेट अस्पताल की करीब 25 नर्सो का कुसुम दीदी एवं नीलिमा दीदी ने स्वागत सम्मान किया।


आष्टा सेवाकेन्द्र प्रभारी कुसुम दीदी ने अपने उदबोधन में कहा कि नर्स स्वास्थ्य सेवा का दिल होती हैं, वह अपना न सोच के दुसरो के हित का ही सोचती हैं,अध्यात्म पर प्रकाश डालते हुए कहा कि जिस प्रकार एक मरीज को आप मेडिसिन व इंजेक्शन देकर स्वस्थ करते हैं उसी प्रकार ब्रह्माकुमारीज संस्था आध्यात्मिक ज्ञान एवं मेडिटेशन द्वारा अंतरात्मा की बुराई रूपी बीमारी से मुक्त कराती हैं व मेडिटेशन से प्रेम शांति सुख खुशी का अनुभव ईश्वर की याद द्वारा कराती हैं।


उक्त उदबोधन के पश्चात बीके नीलिमा दीदी ने अंतर्राष्ट्रीय नर्स दिवस की बधाई दे सभी को शुभकामनाएं दी व इस दिन के इतिहास पर प्रकाश डाला, एवं व्यसन से मुक्त रहने का संदेश दिया। इसके पश्चात परमात्मा का परिचय दे योग कक्ष में सभी को बिठाकर परमात्म अनुभूति कराई।


कार्यक्रम के पश्चात सभी डॉक्टर्स व नर्सेस संगठन को शाल व ईश्वरीय साहित्य वितरित किया गया। एवं सभी भाई बहनों के साथ भोजन किया।

You missed

error: Content is protected !!