Spread the love

आष्टा। पुलक सागर महाराज एक ऐसे देश के महान संत हैं, जिन्होंने हमेशा समाज को जोड़ने तथा सभी को सही मार्ग पर चलने का संदेश दिया है। पुलक सागर महाराज को शांति दूत की उपाधि से सम्मानित किया। क्योंकि वे किसी एक की नहीं विश्व कल्याण की कामना व बातें करते हैं। आप बंद कमरों में नहीं चौक – चौराहे पर आशीष वचन देते हैं । हम ऐसे गुरुवर के अवतरण दिवस पर गरीबों को भोजन वितरण करके अपने आपको गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं।

फाइल चित्र


उक्त बातें पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष कैलाश परमार ने भारत गौरव ,राष्ट्रीय संत ,शांतिदूत की उपाधि से विभूषित परम पूज्य आचार्य गुरुदेव 108 श्री पुलक सागर जी महाराज के 52 वें अवतरण दिवस के तीन दिवसीय कार्यक्रम के अंतिम दिवस पर पुलक एवं महिला जागृति मंच मेन द्वारा आयोजित भोजन वितरण कार्यक्रम के दौरान कही। आज मंच ने गरीब बस्तियों में पहुंचकर गरीबों को भोजन के पैकेट पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष कैलाश परमार सहित मंच के सभी सदस्यो की उपस्थिति में वितरित किए।

आचार्यश्री पुलक सागर महाराज के अवतरण दिवस पर पुलक मंच मेन एवं महिला जागृति मंच मेन द्बारा प्रति वर्ष त्रि दिवसीय पुलक पर्व के रूप में मनाते हैं। वहीं पुलक मंच व महिला जागृति मंच द्वारा पूरे भारतवर्ष में बड़े ही भक्ति भाव से हर्ष उल्लास के साथ अपने गुरुदेव का अवतरण दिवस मनाया जाता है। इसी के चलते आष्टा पुलक जागृति मंच मेन शाखा द्वारा त्रि दिवसीय कार्यक्रम बड़े ही उत्साह के साथ मनाया गया।

इस अवसर पर पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष कैलाश परमार , मंच संरक्षक नरेंद्र गंगवाल, कमलेश जैन, संजय जैन किला, जितेन्द्र बाकडे, मंच अध्यक्ष जितेन्द्र जैन, नवीन जैन ,धर्मेद्र जैन, अरुण जैन, अशोक जैन,भूपेन्द्र जैन, दिनेश जैन ,शैलेन्द्र जैन, सौरभ जैन, राहुल जैन ,पुलक मंच व महिला जागृति मंच की श्रीमती अभिलाषा जैन ,इंदु जैन, श्वेता जैन ,शीतल जैन, प्रियंका जैन आदि सदस्यों ने उपस्थित होकर एक दूसरे को आचार्य श्री के जन्मोत्सव की बधाई दी ।अंत मे मंच अध्यक्ष जितेंद्र जैन, कमलेश जैन ने आभार प्रकट कर सभी उपस्थित वरिष्ठ जन को धन्यवाद दिया ।

You missed

error: Content is protected !!